You are here
Home > Politics > पूर्व राष्ट्रपति डॉ. राजेन्द्र प्रसाद की जयंती पर कांग्रेसजनों ने किया उनका पुण्य स्मरण

पूर्व राष्ट्रपति डॉ. राजेन्द्र प्रसाद की जयंती पर कांग्रेसजनों ने किया उनका पुण्य स्मरण

भोपाल। प्रदेश कांग्रेस मुख्यालय के सभाकक्ष में आज कांग्रेसजनों ने पूर्व राष्ट्रपति डॉ. राजेन्द्र प्रसाद की जयंती पर उनके चित्र पर माल्यार्पण और पुष्प अर्पित कर देश निर्माण में उनकी भूमिका पर प्रकाश डाला और उन्हें पुष्पांजलि अर्पित की। साथ ही 1984 में दो-तीन दिसम्बर की दरम्यानी रात में राजधानी भोपाल में हुई गैस त्रास्दी से आयी संकट की घड़ी से अकाल मृत्यु के आगोस में समा गये लोगों के प्रति श्रद्धांसुमन अर्पित किये और दो मिनिट का मौन रखा गया। इसके पूर्व सेंट्रल लायब्रेरी पर कांग्रेसजनों ने गैस त्रास्दी में मृत लोगों के प्रति श्रद्धांजलि अर्पित की।


प्रदेश कांग्रेस के उपाध्यक्ष संगठन प्रभारी चंद्र्रप्रभाष शेखर ने देश के पूर्व राष्ट्रपति डॉ. राजेन्द्र प्रसाद को याद करते हुए कहा कि वे सौम्य, सहज और सरल स्वभाव से व्यक्तित्व थे, उन्होंने देश के निर्माण मंे अग्रणी भूमिका निभायी। वहीं गैस त्रास्दी की 38 वीं बरसी पर उन्होंने कहा कि राजधानी भोपाल में हुये गैस रिसाव से हजारों लोग अकाल मौत के आगोस में समा गये, यह बड़े दुःख की घड़ी थी। इस हादसे से आज भी लोग उबर नहीं सके हैं आज भी इस घटना से प्रभावित लोग किसी न किसी बीमारी से जकड़े हुये हैं।


प्रदेश कांग्रेस के प्रवक्ता और कार्यक्रम समन्वयक आनंद तारण ने कार्यक्रम का संचालन करते हुए अपने विचार व्यक्त किये।
उक्त दोनों कार्यक्रम में प्रदेश कांग्रेस के पदाधिकारीगण संजय मसानी, अजयसिंह यादव, सुश्री संगीता शर्मा, जितेन्द्र मिश्रा, पूर्व सांसद मानिक सिंह, मिर्जा नूर बेग, भूपेन्द्र द्विवेदी, संजय गुप्ता, मुईनउद्दीन सिद्धीकी, राजकुमार दीपांकन, रेणु शाह, सुषमा वर्मा, अशोक शाह, सावित्री सिंह, मुजफफर अली, रामस्वरूप यादव, रमाशंकर शुक्ल सहित अन्य कांग्रेसजन उपस्थित थे।

Top